6 Ways To Deal With Uncertainty अनिश्चितता से निपटने के 6 तरीके

जीवन की अनिश्चितता

 The Uncertainty Of Life


6 Ways To Deal With Uncertainty अनिश्चितता से निपटने के 6 तरीके

6 Ways To Deal With Uncertainty अनिश्चितता से निपटने के 6 तरीके

         The Uncertainty Of Life/ अनिश्चितता जीवन का एक स्वाभाविक हिस्सा है। बड़ी चीज़ों से लेकर छोटी चीज़ो तक हर कोई इसे रोजाना महसूस करता है। अनिश्चित होने का मतलब यह नहीं है कि आप खो गए हैं या असफल हैं। इसका सीधा सा मतलब है कि आप जीवित हैं और अनिश्चितता से निपटने के तैयार है। आज हम अनिश्चितता से निपटने के 6 तरीके/6 Ways To Deal With Uncertainty देखनेवाले है। 

        अनिश्चितता हमारे चारों ओर है। जैसे की वैश्विक महामारी कोरोना हो, देश की अर्थव्यवस्था हो, या आपके वित्त, स्वास्थ्य और रिश्तों से संबंधित हो। जीवन में आगे क्या होनेवाला है ? What is Next ? यह हमें पता नहीं। और जो हमें पता नहीं वो अनिश्चित है। 

          लेकिन फिर भी मनुष्य होने के नाते हम निश्चितता/ Certainty चाहते हैं। हम सुरक्षित महसूस करना चाहते हैं और हमारे जीवनपर नियंत्रण की भावना रखते हैं। डर और अनिश्चितता आपको अपने जीवन की दिशा में तनावग्रस्त, चिंतित और शक्तिहीन महसूस करवा सकती है। जीवन की अनिश्चितता आपको भावनात्मक रूप से खत्म कर सकती है। कल क्या होनेवाला है ? ये सवाल जब हमें बार बार आता है तब हमें वो अवसाद की ओर भी ले जा सकता है। 

             जीवन है तो बहोत बार अनिश्चितता का परिचय आपको होगा ही, लेकिन यदि आप हर दिन जीवन की अनिश्चितता से निपटना सीख सकते हैं, तो आप अधिक आश्वस्त होंगे और यह भरोसा करने में सक्षम होंगे कि चीजें सबसे अच्छे तरीके से काम करेंगी, आपको अनिश्चितता को तब तक स्वीकार करने का अभ्यास करना होगा जब तक कि यह आसान न हो जाए। इन भावनाओं के माध्यम से आगे बढ़ने से आप अपने आप में आत्मविश्वास और विश्वास विकसित कर पाएंगे।


6 Ways To Deal With Uncertainty अनिश्चितता से निपटने के 6 तरीके
6 Ways To Deal With Uncertainty अनिश्चितता से निपटने के 6 तरीके


          आपको जीवन मे अनिश्चितताओं को हराना है तो आपको अनिश्चितताओं का विरोध करने के बजाय उसका स्वीकार करना होगा। वो कैसे ? ये हम आज अनिश्चितता से निपटने के 6 तरीके/6 Ways To Deal With Uncertainty  देखनेवाले है। 


6 Ways To Deal With Uncertainty


अनिश्चितता से निपटने के 6 तरीके


1. जाने दें Let Go

           अनिश्चितता को स्वीकार करने का पहला कदम यह महसूस करना है कि आप सब कुछ नियंत्रित नहीं कर सकते। उस वास्तविकता से भागने के बजाय, यह महसूस करें कि आपके सामने रखी गई प्रत्येक नई चुनौती के साथ आप अधिक मजबूत हैं।

        व्यक्तिगत परिस्थितियाँ जो भी हों, बेकाबू होने की चिंता करने के बजाय, अपने दिमाग को उन पहलुओं पर कार्रवाई करने पर केंद्रित करने का प्रयास करें जो आपके नियंत्रण में हैं। ऐसा करने से आपकी समस्या, समाधान में बदल जाएगी। 

2. महसूस करने के लिए चुनें Choose To Feel

          जब आप अपनी भावनाओं का विरोध करते हैं, तो वे आप पर अधिक शक्ति रखते हैं जितना उन्हें चाहिए। इसके बजाय, अपनी अनिश्चितता के आसपास की सभी भावनाओं को महसूस करना चुनें - चिंता, भय, आत्म-संदेह, बेचैनी। अपने आप को कठिन भावनाओं को भी महसूस करने की अनुमति देकर, आप धीरे-धीरे उनके माध्यम से आगे बढ़ सकते हैं।

3. आप जो नियंत्रित कर सकते हैं उस पर ध्यान केंद्रित करें Focus On What You Can Control

               जबकि आप सब कुछ नियंत्रित नहीं कर सकते हैं, कुछ चीजें हैं जिन पर आपका नियंत्रण है। आपका रवैया इसका उदाहरण है। भविष्य में क्या हो सकता है और क्या नहीं हो सकता है, इस पर ध्यान देने के बजाय, वर्तमान में क्या हो रहा है, इसके बारे में एक अच्छा रवैया रखें।

          जब तर्कहीन भय और चिंताएं जोर पकड़ती हैं, तो तार्किक/ Logical रूप से सोचना कठिन हो सकता है और कुछ बुरा होने की संभावना को सटीक/Exact रूप से तौलना चाहिए। आपको अधिक सहनशील बनने और अनिश्चितता को स्वीकार करने में मदद करने के लिए वर्तमान मे ध्यान देने की ज़रूरत है। 

4. आश्चर्य के लिए खुले रहें Be Open To Surprise

           सभी अनिश्चितता बुरी नहीं होती हैं। जब आप तैयार होते हैं और आश्चर्य के लिए तैयार होते हैं, तो आप उन चीजों को सीखेंगे और अनुभव करेंगे जिनके बारे में आपने कभी सपने में भी नहीं सोचा होगा।

5. जोखिम उठाएं Take A Risk

            अनिश्चितता आपको अक्षम कर सकती है और आगे बढ़ने में असमर्थ हो सकती है। रिकवरी में उन लोगों के लिए, आपको यह स्वीकार करना चाहिए कि एक स्वस्थ व्यक्ति बनने के लिए आगे बढ़ना जोखिम के साथ आता है - लेकिन यह इसके लायक है क्योंकि आप इसके लायक हैं।

6. बहादुर बनो Be Brave

           भय और अनिश्चितता साथ-साथ चलते हैं। अनिश्चितता का सबसे कठिन हिस्सा, कम से कम मेरे लिए, योजना बनाने और नियंत्रण में महसूस करने में असमर्थता है। इसलिए डर के बजाय विभिन्न संभावनाओं के लिए तैयार रहने मे ही समझदारी है। 

           आपको बहादुर बनकर सिर्फ इतनाही सोचना है की मैं भविष्य की भविष्यवाणी नहीं कर सकता, लेकिन मैं संभावनाओं के बारे में सकारात्मक भावनाओं को बढ़ावा देकर इसे बनाने में मदद कर सकता हूं।


If everything is certain it gives depression.
The “WOW” factor in life comes from uncertainty.
– Sri Ravi Shankar

        

6 Ways To Deal With Uncertainty अनिश्चितता से निपटने के 6 तरीके
6 Ways To Deal With Uncertainty अनिश्चितता से निपटने के 6 तरीके


           यदि कभी आपको लगता है कि आपने अपने लिए एक नियंत्रित जीवन बनाया है, तो आप निश्चिंत हो सकते हैं कि यह एक भ्रम है। कुछ भी हमेशा के लिए एक जैसा नहीं रहता। Change Is Law Of Nature हम सब जानते है। 


READ MORE:-

Dear Zindagi.... Love You Zindagi


          जीवन कभी भी Certainty की Guaranty नहीं देता, हमारे जीवन मे वक़्त के चलते काफी बदलाव आते रहते है, इसके चलते हमारे ज़िन्दगी की Priyorities बदलते रहती है। कभी भी चीज़ें एक सी नहीं रहती। इसलिए तो कहा जाता है, Life is Uncertain, Death is Certain. Death की Certainty है पर कब ? ये Uncertain है। इसलिए उपर बताये हुए तरीको से जीवन की अनिश्चितता को निपटते रहिये और आगे बढ़ते रहिए। 


 To read more motivational stories / blog click on

To connect with us on Facebook

Connect with us on Telegram

Post a Comment

0 Comments